ऑर्गेनिक रीसाइक्लिंग सिस्टम आईपीओ समीक्षा 2023 – जीएमपी, मूल्य, विवरण

ऑर्गेनिक रीसाइक्लिंग सिस्टम आईपीओ समीक्षा: ऑर्गेनिक रीसाइक्लिंग सिस्टम लिमिटेड (Organic Recycling Systems Limited) अपना आईपीओ लेकर आ रही है। यह एक एसएमई (लघु और मध्यम आकार का उद्यम) आईपीओ है और कंपनी एनएसई एसएमई पर लिस्टिंग होने जा रही है।

आईपीओ के सदस्यता के लिए खुलने की तारीख 21 सितंबर, 2023 रहेगी और बंद होने की तारीख 26 सितंबर, 2023 रहेगी।

इस ब्लॉग में, हम ऑर्गेनिक रीसाइक्लिंग सिस्टम आईपीओ समीक्षा 2023 को देखेंगे और कंपनी के कामकाज, इसकी ताकत और कमजोरियों, इसके फाइनेंसियल मैट्रिक्स और जीएमपी का विश्लेषण करेंगे।

ऑर्गेनिक रीसाइक्लिंग सिस्टम आईपीओ
ऑर्गेनिक रीसाइक्लिंग सिस्टम आईपीओ

विषय सूची

ऑर्गेनिक रीसाइक्लिंग सिस्टम आईपीओ – कंपनी ओवरव्यू:

2008 में निगमित, यह एक इंजीनियरिंग कंपनी है जो अपशिष्ट प्रबंधन समाधान पेश करती है। कंपनी के बिजनेस वर्टिकल में बिल्ड ओन ऑपरेट ट्रांसफर (बीओओटी) मॉडल, इंजीनियरिंग प्रोक्योरमेंट एंड कमीशनिंग (ईपीसी) मॉडल और प्रमुख उपकरणों की आपूर्ति शामिल हैं।

कंपनी अपशिष्ट प्रबंधन में ईपीसी (इंजीनियरिंग, खरीद और निर्माण) सेवाएं, अपशिष्ट प्रबंधन क्षेत्र में परामर्श सेवाएं, कमीशनिंग सेवाएं, निर्माण, योजना और अपशिष्ट प्रबंधन परियोजनाओं, प्रयोगशाला सेवाओं आदि का प्रबंधन जैसी सेवाएं प्रदान करती है।

ऑर्गेनिक रीसाइक्लिंग सिस्टम्स (ओआरएस) ने म्यूनिसिपल सॉलिड वेस्ट (एमएसडब्ल्यू) को बिजली और खाद में बदलने के लिए सोलापुर, महाराष्ट्र में एक एमएसडब्ल्यू प्रसंस्करण और निपटान संयंत्र भी स्थापित किया है। ओआरएस ने एक पेटेंटयुक्त ड्राई एनारोबिक डाइजेशन (ड्रायड) तकनीक विकसित की है जो कई प्रकार के कचरे का समाधान करने में सक्षम है।

ऑर्गेनिक रीसाइक्लिंग सिस्टम आईपीओ – इंडस्ट्री ओवरव्यू:

भारत में प्रति दिन औसतन 0.39 किलोग्राम ठोस कचरा प्रति व्यक्ति उत्पन्न करता हैं, जिसमें व्यक्तिगत शहर का कुल कचरा 0.19 से 0.99 किलोग्राम तक प्रति व्यक्ति होता है। बड़े और अमीर शहर हर दिन अधिक कचरा पैदा करते हैं।

भारत की बढ़ती जनसँख्या और उपभोग पैटर्न के कारण अपशिष्ट प्रबंधन क्षेत्र एक बड़ा अवसर है। यह क्षेत्र अपने विकास के अहम चरण में है और बहुत कम कम्पनियों के पास इसके समाधान प्रदान करने के लिए सही तकनीक और क्षमता है।

2018-19 की सीपीसीबी की वार्षिक रिपोर्ट के आंकड़ों और एमओयूएचए द्वारा प्लास्टिक अपशिष्ट प्रबंधन पर एक रिपोर्ट के अनुसार, भारत में प्रत्येक दिन उत्पन्न एमएसडब्ल्यू की मात्रा लगभग 1.5 लाख टन है, जबकि प्रत्येक दिन उपचारित की जाने वाली मात्रा लगभग 0.5 लाख टन है।

प्रतिदिन उत्पन्न होने वाले प्लास्टिक कचरे की मात्रा लगभग 0.26 लाख टन है, जबकि प्रतिदिन उपचारित होने वाली मात्रा लगभग 0.15 लाख टन है।

2025 तक इस क्षेत्र का कुल बाजार 60 बिलियन डॉलर तक पहुँचने का अनुमान है।

शेयर मार्केट की ताजा न्यूज़ के लिए इन्हे भी पढ़ें:

ऑर्गेनिक रीसाइक्लिंग सिस्टम आईपीओ – फाइनेंसियल:

इस कंपनी की वित्तीय स्थिति को देखने पर पता चलता है कि इनकी संपत्ति मार्च 2021 में 102.72 करोड़ रुपए थी जो बढ़कर मार्च 2023 में 119.31 करोड़ रुपए हो गई है।

इनका राजस्व भी मार्च 2021 में 15.78 करोड़ रुपए था जो बढ़कर मार्च 2023 में 25.34 करोड़ रुपए हो गया है। अपने राजस्व में वृद्धि करने के साथ-साथ, कंपनी अपने घाटे से उबरने में भी कामयाब रही है और 3.65 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ दर्ज किया है।

फाइनेंसियल ईयर 2023 तक इसका RoCE 13.06% और ROE 21.76% है। एक उच्च आरओई शेयरधारकों द्वारा निवेश की गई पूंजी पर अच्छे रिटर्न का इशारा करता है।

इसका ऋण-से-इक्विटी अनुपात 2.7 है जो इस बात का इशारा करता है कि कंपनी पर भारी कर्ज है।

फाइनेंसियल मैट्रिक्स:

निचे दी गयी तालिका में कंपनी के कुछ इम्पोर्टेन्ट फाइनेंसियल मैट्रिक्स दिए गए हैं:

अवधि समाप्त31 मार्च 202131 मार्च 202231 मार्च 2023
संपत्ति10,272.6910,669.3511,931.10
आय1,578.181,756.672,534.10
कर के बाद लाभ-449.37-535.03365.38
निवल मूल्य1,343.88808.862,550.07
आरक्षित और अधिशेष1,298.11763.082,014.40
कुल उधार5,449.895,418.386,981.41

ऑर्गेनिक रीसाइक्लिंग सिस्टम के प्रतिस्पर्धी:

बढ़ती औद्योगिक गतिविधि और उच्च जनसंख्या घनत्व के कारण भारतीय अपशिष्ट प्रबंधन बाजार में बहुत वृद्धि हो रही है। वर्तमान में, बाज़ार में लगभग 25 से 30 भागीदार सेवाएँ प्रदान कर रहे हैं। कुछ प्रतिभागी ऐसे हैं जो बुनियादी ढांचे और पर्यावरण सेवाओं की ओर ध्यान केंद्रित करते हैं। कुछ प्रतिभागी परिवहन प्रबंधन सेवाएं प्रदान करने वाले लॉजिस्टिक्स पर ध्यान केंद्रित करते हैं। कंपनी की मुख्य प्रतिस्पर्धी वे संस्थाएं हैं जो नगर निगम के कचरे के निपटान में शामिल रहती हैं।

ऑर्गेनिक रीसाइक्लिंग सिस्टम की ताकतें: (Pros)

  • भारत में नगरपालिका ठोस अपशिष्ट प्रबंधन के लिए थर्मोफिलिक एनारोबिक बायो मिथेनेशन तकनीक शुरू करने वाली अग्रणी कंपनियों में से एक है। कंपनी ने ग्राहक आवश्यकताओं के आधार पर प्रौद्योगिकियों जैसे एलआईपीएच-एडी प्रौद्योगिकी, मारुत – चूर्णीकरण, कम लागत वाली अवायवीय पाचन प्रक्रिया और समरूपीकरण प्रौद्योगिकी का विकास किया है।
  • सीपीसीबी की वार्षिक रिपोर्ट और एमओयूएचए द्वारा प्लास्टिक अपशिष्ट प्रबंधन मामले के अध्ययन से एकत्र किए गए आंकड़ों के अनुसार, एक दिन में उत्पन्न कचरे और उपचारित कचरे के बीच बहुत बड़ा अंतर है। इससे कंपनी को 2025 तक 60 अरब डॉलर तक का बाजार अवसर मिलने का अनुमान है।
  • कंपनी ने इंजीनियरिंग प्रोक्योरमेंट एंड कंस्ट्रक्शन (ईपीसी) डिवीजन के साथ प्रोडक्ट वर्टिकल, कंसल्टिंग वर्टिकल और प्रोजेक्ट डेवलपमेंट और टेक्नोलॉजी लाइसेंसिंग सहित कई बिजनेस वर्टिकल में प्रवेश किया है।

ऑर्गेनिक रीसाइक्लिंग सिस्टम की कमजोरियाँ: (Cons)

  • अपनी परियोजनाओं के लिए नगरपालिका अनुबंधों पर बातचीत करने की कंपनी की क्षमता सीमित हो सकती है। इस प्रकार, कंपनी पर कोई भी कठिन प्रावधान लगाया जा सकता है।
  • कंपनी अपने राजस्व के एक बड़े हिस्से के लिए नगर पालिकाओं पर निर्भर है। क्योंकि कई नगर पालिकाएँ अपने स्वयं के कर राजस्व से विभिन्न ठोस अपशिष्ट प्रबंधन के लिए भुगतान करने के लिए संघर्ष करती हैं, इसका व्यवसाय पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है।
  • कंपनी अपने राजस्व के एक महत्वपूर्ण हिस्से के लिए सीमित संख्या में ग्राहकों पर निर्भर है। इनमें से किसी भी प्रमुख ग्राहक के खोने से व्यवसाय पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है।

ऑर्गेनिक रीसाइक्लिंग सिस्टम आईपीओ – जीएमपी: (Organic Recycling Systems IPO – GMP in Hindi)

इस कंपनी को 6-10-2023 को स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध किया गया था। आईपीओ को 3.24 गुना सब्सक्राइब किया गया था। इस आईपीओ के लिए अंतिम जीएमपी 16 रुपए थी, 6 अक्टूबर 2023 09:32 AM पर अपडेट किया गया। अंतिम जीएमपी के अनुसार, आईपीओ के लिए अपेक्षित लाभ/हानि 8% थी।

ऑर्गेनिक रीसाइक्लिंग सिस्टम आईपीओ – ​​मुख्य जानकारी:

प्रमोटर: श्री सारंग भांड

बुक रनिंग लीड मैनेजर: अरिहंत कैपिटल मार्केट्स लिमिटेड

प्रस्ताव के रजिस्ट्रार: माशितला सिक्योरिटीज प्राइवेट लिमिटेड

ऑर्गेनिक रीसाइक्लिंग सिस्टम आईपीओ – समय सारिणी (अस्थायी अनुसूची):

यह आईपीओ 21 सितंबर, 2023 को खुलेगा है और 26 सितंबर, 2023 को बंद होगा।

इस आईपीओ से सम्बंधित कुछ महत्वपूर्ण टाईमटेबल निचे की तालिका में दिया गया है:

आईपीओ खुलने की तारीखगुरूवार, सितम्बर 21, 2023
आईपीओ बंद होने की तारीखमंगलवार, 26 सितंबर 2023
आवंटन का आधारशुक्रवार, 29 सितम्बर 2023
रिफंड की शुरूआतमंगलवार, 3 अक्टूबर, 2023
डीमैट में शेयरों का क्रेडिटबुधवार, 4 अक्टूबर 2023
लिस्टिंग दिनांकगुरुवार, 5 अक्टूबर, 2023
UPI मैंडेट पुष्टिकरण के लिए कट-ऑफ समय26 सितंबर 2023 शाम 5 बजे

ऑर्गेनिक रीसाइक्लिंग सिस्टम आईपीओ – विवरण:

आईपीओ के कुछ महत्वपूर्ण विवरण निचे दी गयी तालिका में दिए गए हैं:

आईपीओ तिथि21 सितंबर 2023 से 26 सितंबर 2023 तक
लिस्टिंग दिनांक[5 अक्टूबर, 2023]
फेस वैल्यू₹10 प्रति शेयर
कीमत₹200 प्रति शेयर
लॉट साइज600 शेयर
कुल अंक आकार2,500,200 शेयर (कुल मिलाकर ₹50.00 करोड़ तक)
ताजा अंक2,500,200 शेयर (कुल मिलाकर ₹50.00 करोड़ तक)
विषय वर्गफिक्स्ड प्राइस इश्यू आईपीओ
लिस्टिंगबीएसई एसएमई
शेयर होल्डिंग प्री इश्यू5,199,075
शेयर होल्डिंग पोस्ट इश्यू7,699,275
बाज़ार निर्माता भाग130,200 शेयर
शेयर होल्डिंग प्री इश्यू30.14%
शेयर होल्डिंग पोस्ट इश्यू20.35%

की परफॉरमेंस इंडिकेटर (KPI):

इसकी मार्केट कैप 153.99 करोड़ रुपये और पी/ई (x) 25.54 है।

के.पी.आईमान
पी/ई (एक्स)25.54
पोस्ट पी/ई (x)42.11
मार्केट कैप (₹ करोड़)153.99
आरओई21.76%
आरओसीई13.06%
ऋण इक्विटी2.7
ईपीएस (रु.)7.83
RoNW14.33%

कंपनी संपर्क विवरण:

ऑर्गेनिक रीसाइक्लिंग सिस्टम्स लिमिटेड
कार्यालय नंबर 1003, 10वीं मंजिल,
द अफेयर्स प्लॉट नंबर 9, सेक्टर-17,
सानपाड़ा, नवी मुंबई- 400705
फोन : 022-41702222
ईमेल : cs@organicrecycling.co.in
वेबसाइट : https://organicrecycling .co.in

ऑर्गेनिक रीसाइक्लिंग सिस्टम आईपीओ का उद्देश्य:

कंपनी का उद्देश्य इश्यू से प्राप्त आय का उपयोग निम्नलिखित वस्तुओं के वित्तपोषण के लिए करना है:

  • सामान्य कॉर्पोरेट उद्देश्य।
  • कंपनी की कुल बकाया उधारी में कमी।

शेयर मार्केट की ताजा न्यूज़ के लिए इन्हे भी पढ़ें:

निष्कर्ष:

इस ब्लॉग में हम ने ऑर्गेनिक रीसाइक्लिंग सिस्टम आईपीओ समीक्षा 2023 के विवरण को देखा। हम यह निष्कर्ष निकाल सकते है कि सरकार द्वारा अपनी अपशिष्ट प्रबंधन सुविधाओं को बढ़ाने के साथ-साथ, कंपनी के पास भविष्य में बढ़ने का एक अच्छा अवसर भी है।

कंपनी सभी के लिए लाभकारी स्थिति लाने के लिए अधिक तकनीकी पहलुओं के साथ अपशिष्ट प्रबंधन में लगी हुई है। महामारी के प्रभाव के बाद कंपनी को 2021 और 2022 में झटका लगा। लेकिन 2023 में कंपनी का प्रदर्शन एमएसडब्ल्यू परियोजनाओं में विशेष सेवाओं और समाधान के लिए आगे की संभावनाओं की ओर इशारा करता है।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न: (FAQs)

Q. ऑर्गेनिक रीसाइक्लिंग सिस्टम लिमिटेड आईपीओ क्या है?

Ans. ऑर्गेनिक रीसाइक्लिंग सिस्टम लिमिटेड आईपीओ फेस वैल्यू 10 रुपए के 2,500,200 इक्विटी शेयरों का एक एसएमई आईपीओ है, जो कुल मिलाकर 50 करोड़ रुपए तक का है। इश्यू की कीमत 200 रुपए प्रति शेयर है। न्यूनतम लोट साइज 600 शेयर का है। आईपीओ 21 सितंबर, 2023 को खुलेगा और 26 सितंबर, 2023 को बंद होगा। शेयरों को एनएसई एसएमई पर लिस्टिंग किया जायेगा।

Q. ऑर्गेनिक रीसाइक्लिंग सिस्टम आईपीओ का लॉट साइज क्या है?

Ans. ऑर्गेनिक रीसाइक्लिंग सिस्टम लिमिटेड आईपीओ का लॉट साइज 600 शेयर है और आवश्यक न्यूनतम राशि 120,000 रुपए है।

Q. ऑर्गेनिक रीसाइक्लिंग सिस्टम आईपीओ लिस्टिंग की तारीख कब है?

Ans. ऑर्गेनिक रीसाइक्लिंग सिस्टम लिमिटेड आईपीओ की लिस्टिंग की तारीख अभी घोषित नहीं की गई है। इसकी लिस्टिंग की संभावित तारीख गुरुवार, 5 अक्टूबर, 2023 हो सकती है।

Q. ऑर्गेनिक रीसाइक्लिंग सिस्टम आईपीओ में कब प्रवेश कर सकते हैं?

Ans. ऑर्गेनिक रीसाइक्लिंग सिस्टम आईपीओ सदस्यता के लिए 21 सितंबर, 2023 को खुलेगा और 26 सितंबर, 2023 को बंद होगा।

1 thought on “ऑर्गेनिक रीसाइक्लिंग सिस्टम आईपीओ समीक्षा 2023 – जीएमपी, मूल्य, विवरण”

Leave a comment